प्रशंसक

शनिवार, 6 अगस्त 2011

एक कविता : मित्रों के नाम

मित्र तुम्हे परिभाषित करने का

सामर्थ्य नही मेरी कलम में ।

ये तो जज्बातों का संगम है

जिसमें अविरल विश्वास की धारा बहती है॥




चाह रहा है आज मेरा मन
मित्र तुम्हे उपहार मै कुछ दूँ ।
कोई भौतिक वस्तु नही
अमिट असीमित प्यार तुम्हे दूँ ॥
..................
 बरसों पहले नन्हे पन में
बुना था, जो तुम संग सपना ,
नदी किनारे रेत का हमने
बनाया था छोटा सा घर अपना ,
सोच रहा हूँ, मिल कर फिर से
उन सपनों का विस्तार तुम्हे दूँ ॥
चाह रहा है आज...........................
इक सदी सी, गुजर गयी मिले हुये
दुनिया दारी की हैं, बहुत सी उलझन ,
मगर आज दिल कहता, जी ले फिर 
खोया हुआ वो, प्यारा अल्लड बचपन ,
धुँधला गये है जो ,यादों के घरौदें
मिलकर, एक नया आकार उन्हे दूँ ॥
चाह रहा है आज...........................
एक अनोखी अदभुद सी, पर दिल की
सुन बात बतलाता हूँ मै तुमको ,
सुख में, अनगिनत रिश्ते साथ थे पर
कठिनाइयों में बस, निकट पाया तुमको ,
दूर होकर भी तुमने, सदा बाँटी तकलीफे
आज अपनी खुशियों का संसार तुम्हे दूँ ॥
चाह रहा है आज...........................

चाहे कितने ही रिश्ते नाते
इस जग से सबको मिल जाये ।

पर मिले ना जब तक सच्चा साथी

कुछ कमी - कमी सी  रहती है ॥

20 टिप्‍पणियां:

  1. मित्रता दिवस पर बहुत अच्छी रचना ..

    उत्तर देंहटाएं
  2. सुन्दर पंक्तियाँ, कानपूर में आप कहाँ अध्यापन में हैं ?

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुंदर रचना इससे अच्छा उपहार हो ही नहीं सकता , फ्रेंडशिप डे की हार्दिक शुभकामनायें ......

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत खुबसूरत दोस्ती के एहसासों वयक्त करती है आपकी रचना... happyfriendshipday di....

    उत्तर देंहटाएं
  5. प्यार,
    बड़ा उपहार,
    बढ़े अनवार
    हमारे जीवन में।

    उत्तर देंहटाएं
  6. सुंदर अभिव्यक्ति !हैप्पी फ़्रेंडशिप डे।

    way4host

    उत्तर देंहटाएं
  7. आपको भी मित्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत सुंदर रचना ! लाजवाब प्रस्तुती!

    आपके पास दोस्तो का ख़ज़ाना है,
    पर ये दोस्त आपका पुराना है,
    इस दोस्त को भुला ना देना कभी,
    क्यू की ये दोस्त आपकी दोस्ती का दीवाना है

    ⁀‵⁀) ✫ ✫ ✫.
    `⋎´✫¸.•°*”˜˜”*°•✫
    ..✫¸.•°*”˜˜”*°•.✫
    ☻/ღ˚ •。* ˚ ˚✰˚ ˛★* 。 ღ˛° 。* °♥ ˚ • ★ *˚ .ღ 。.................
    /▌*˛˚ღ •˚HAPPY FRIENDSHIP DAY MY FRENDS ˚ ✰* ★
    / .. ˚. ★ ˛ ˚ ✰。˚ ˚ღ。* ˛˚ 。✰˚* ˚ ★ღ

    मित्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाये!!

    फ्रेंडशिप डे स्पेशल पोस्ट पर आपका स्वागत है!
    मित्रता एक वरदान

    शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  9. खूबसूरत भावाभिव्यक्ति.
    A real friend is he who gives his shoulder to lean upon in sorrow.

    उत्तर देंहटाएं
  10. प्रिय अपर्णा जी
    सस्नेह अभिवादन !

    अमिट असीमित प्यार पाने के बाद और कुछ पाने को शेष भी नहीं रह जाता ♥

    इक सदी सी, गुजर गयी मिले हुए
    दुनिया दारी की हैं, बहुत सी उलझन ,
    मगर आज दिल कहता, जी ले फिर
    खोया हुआ वो, प्यारा अल्हड़ बचपन ,
    धुंधला गए है जो ,यादों के घरौदें
    मिलकर, एक नया आकार उन्हे दूं …

    आहाऽऽह ! बहुत प्यारा गीत लिखा है आपने
    हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं !

    मित्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाओ के साथ
    -राजेन्द्र स्वर्णकार

    उत्तर देंहटाएं
  11. चाह रहा है आज मेरा मन
    मित्र तुम्हे उपहार मै कुछ दूँ ।
    कोई भौतिक वस्तु नही
    अमिट असीमित प्यार तुम्हे दूँ ॥

    अमिट, असीमित और सच्चे प्यार से बड़ा क्या उपहार हो सकता है किसी के लिए ...जिन्दगी में बाकी सब कुछ तो मिल सकता है लेकिन अमिट असीमित प्यार जिसे- जिस किसी का भी मिल जाए उसका जीवन ...सवंर जाता है ....!

    उत्तर देंहटाएं
  12. मित्र तो अनमोल होते है .सुँदर रचना . मित्रता दिवस की शुभकामनायें .

    उत्तर देंहटाएं
  13. बहुत सुंदर कविता और उसके भाव....फ्रेंडशिप डे ' की आपको ढेर सारी शुभकामनाएँ ..... |

    उत्तर देंहटाएं
  14. बहुत प्यारा गीत लिखा है आपने,
    बहुत बहुत बधाई,
    विवेक जैन vivj2000.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं

आपकी राय , आपके विचार अनमोल हैं
और लेखन को सुधारने के लिये आवश्यक

GreenEarth