प्रशंसक

सोमवार, 12 जुलाई 2010

sad version of एक दिन आप यूँ हमको मिल जायेंगे

एक दिन आप यूँ दूर हो जायेंगें
भूल जाने को मजबूर हो जायेंगें
मैने सोचा न था ssss
इस कदर जिन्दगी मेरी होगी दुखी
रोयेगा आसमां रोयेगी ये जमीं
मैने सोचा न था ssss

दिल की राहों में कांटे से चुभने लगे
आप जब दूर हमसे थे होने लगे
एक दिन इस तरह हम बिछड जायेंगें
इक झलक को नयन ये तरस जायेंगें
मैने सोचा न था ssss

धुंधली धुंधली मेरी हर इक रात है
रात है या अमावस की सौगात है
एक दिन दिल की राहों मे मेरे लिये
ना जलेंगें मोहब्बत के दो भी दिये
मैने सोचा न था ssss

एक दिन आप यूँ दूर हो जायेंगें

भूल जाने को मजबूर हो जायेंगें

मैने सोचा न था ssss

dedicated for those who lost their love anyways

9 टिप्‍पणियां:

  1. दूरी मन की होती है भौतिक दूरी का कोई मतलब नहीं है

    उत्तर देंहटाएं
  2. हिंदी ब्लाग लेखन के लिए स्वागत और बधाई
    कृपया अन्य ब्लॉगों को भी पढें और अपनी बहुमूल्य टिप्पणियां देनें का कष्ट करें

    उत्तर देंहटाएं
  3. इस नए चिट्ठे के साथ हिंदी ब्‍लॉग जगत में आपका स्‍वागत है .. नियमित लेखन के लिए शुभकामनाएं !!

    उत्तर देंहटाएं
  4. मुझे क्या कहना चाहिए.

    उत्तर देंहटाएं
  5. " बाज़ार के बिस्तर पर स्खलित ज्ञान कभी क्रांति का जनक नहीं हो सकता "

    हिंदी चिट्ठाकारी की सरस और रहस्यमई दुनिया में राज-समाज और जन की आवाज "जनोक्ति.कॉम "आपके इस सुन्दर चिट्ठे का स्वागत करता है . चिट्ठे की सार्थकता को बनाये रखें . अपने राजनैतिक , सामाजिक , आर्थिक , सांस्कृतिक और मीडिया से जुडे आलेख , कविता , कहानियां , व्यंग आदि जनोक्ति पर पोस्ट करने के लिए नीचे दिए गये लिंक पर जाकर रजिस्टर करें . http://www.janokti.com/wp-login.php?action=register,
    जनोक्ति.कॉम www.janokti.com एक ऐसा हिंदी वेब पोर्टल है जो राज और समाज से जुडे विषयों पर जनपक्ष को पाठकों के सामने लाता है . हमारा प्रयास रोजाना 400 नये लोगों तक पहुँच रहा है . रोजाना नये-पुराने पाठकों की संख्या डेढ़ से दो हजार के बीच रहती है . 10 हजार के आस-पास पन्ने पढ़े जाते हैं . आप भी अपने कलम को अपना हथियार बनाइए और शामिल हो जाइए जनोक्ति परिवार में !
    एसएम्एस देखकर पैसा कमा सकते हैं http://mGinger.com/index.jsp?inviteId=janokti

    उत्तर देंहटाएं

आपकी राय , आपके विचार अनमोल हैं
और लेखन को सुधारने के लिये आवश्यक

GreenEarth